• Brihat Horoscope
  • Ask A Question
  • Child Report 2020
  • Raj Yoga Report
  • Career Counseling
Personalized
Horoscope

शनि गोचर 2022: सभी राशियों के लिए शनि गोचर 2022 भविष्यवाणी

Last Updated: 9/20/2021 1:50:16 PM

एस्ट्रोकैंप द्वारा शनि गोचर 2022 राशिफल, आपको नए वर्ष 2022 में शनि ग्रह के गोचर के दौरान जातकों पर पड़ने वाले सकारात्मक व नकारात्मक प्रभावों से अवगत कराएगी, जो कि वैदिक ज्योतिष पर आधारित है। आइए आगे बढ़ते हैं और जानते हैं इस वर्ष 2022 में शनि ग्रह के गोचर का आपके जीवन पर क्या प्रभाव पड़ने की संभावना है।

दुनियाभर के विद्वान ज्योतिषियों से करें फ़ोन पर बात और जानें क्या लाया है नया साल आपके लिए!

ज्योतिष शास्त्र में शनि ग्रह को सौरमंडल के सभी नौ ग्रहों में से सबसे नुकसानदेह या लाभकारी ग्रह माना जाता है। यदि किसी जातक की कुंडली के किसी भाव पर शनि ग्रह की नकारात्मक दृष्टि या ख़राब स्थिति होती है तो यह जातक के लिए बहुत दुर्भाग्य ला सकता है। शनि का नकारात्मक प्रभाव जातकों को आर्थिक रूप से, करियर, शिक्षा, नौकरी, विवाह आदि के मामले होने वाले विकास को नुकसान पहुंचा सकता है और आपके जीवन में बाधाएं उत्पन्न करने वाली कुछ घटनाओं को भी अंजाम दे सकता है। शनि के नकारात्मक प्रभाव जातकों के वैवाहिक जीवन में और उनकी आर्थिक प्रगति पर भी दिखाई देने लगते हैं।

जब शनि ग्रह आपकी कुंडली में सकारात्मक रूप से स्थित होता है या इसकी शुभ दृष्टि आपकी कुंडली पर होती है तो यह संभवतः लोगों को अविश्वसनीय प्रसिद्धि, धन और प्रतिष्ठा की ओर ले जा सकता है। यह विशेष रूप से तब होता है जब जातक कुंभ या मकर राशि का होता है क्योंकि शनि उनके लग्न का स्वामी होता है।

शनि ग्रह का नकारात्मक प्रभाव आपके जीवन पर तब पड़ता है जब इस ग्रह का गोचर नकारात्मक रूप से हो रहा हो। जब शनि आपके लाभकारी भावों में स्थित होता है तो यह जातकों के लिए बहुत भाग्यशाली होता है और जातक के जीवन को आर्थिक रूप से समृद्ध बना सकता है। यदि शनि आपकी कुंडली में स्थित होता है तो इसका प्रभाव आपको दीर्घायु प्रदान करता है। साथ ही, यह ग्रह आपके लिए एक शिक्षक के रूप में कार्य कर सकता है क्योंकि यह जातकों को उनके कर्मों की प्रकृति के आधार पर दंडित और पुरस्कृत कर सकता है। शनि आपके चरित्र का प्रभारी होता है अर्थात, आप अपने कर्मों के आधार पर शनि को ख़ुश या नाराज़ कर सकते हैं। प्रसन्न शनि आपको सकारात्मक फल देंगे और नाराज़ शनि आपके लिए कई समस्याएं खड़ी कर सकते हैं।

Click Here To Read In Eng: Saturn Transit 2022

शनि गोचर 2022 तिथि

शनि ग्रह मकर और कुंभ राशि का स्वामी होता है और यह 29 अप्रैल 2022 से अपनी स्वराशि कुंभ में गोचर करने जा रहा है। इसके बाद 12 जुलाई 2022 से, वक्री गति में चलते हुए शनि फिर से मकर राशि में गोचर करेगा और फिर 17 जनवरी 2023 से दूसरी राशि कुंभ में करेगा। आइए विस्तार से जानते हैं कि सभी 12 राशियों के जातकों पर शनि गोचर 2022 का क्या प्रभाव पड़ने की संभावना है, साथ ही शनि के नकारात्मक प्रभाव से बचने के क्या उपयुक्त उपाय हो सकते हैं।

शनि गोचर 2022: मेष

मेष राशि के जातकों के लिए शनि दसवें और ग्यारहवें भाव का स्वामी है और इस वर्ष की शुरुआत में शनि आपके दसवें भाव में यानी कि करियर, प्रसिद्धि और पिता के भाव में गोचर करेगा। परिणामस्वरूप, इस वर्ष की शुरुआत में मेष राशि के जातक पूरी तरह से अपने करियर और काम पर केंद्रित हो सकते हैं लेकिन उन्हें अतिरिक्त प्रयास करने और अपने काम में दृढ़ता दिखाने की आवश्यकता पड़ सकती है। उनके करियर और अधिकार के मामलों में कुछ उतार-चढ़ाव और चुनौतियां होने की आशंका है। जो जातक नौकरीपेशा हैं, उन्हें अपने कार्यस्थल पर वरिष्ठों की वजह से तनाव हो सकता है, जिससे वे अपने घर पर भी कुछ तनाव महसूस कर सकते हैं। आपकी कुंडली का दसवां भाव पिता से संबंधित होने के कारण आपके पिता को कुछ स्वास्थ्य संबंधी समस्याएं हो सकती हैं। आपकी कुंडली के अनुसार आपके करियर या काम में भी बदलाव होने की संभावना है। शनि की दृष्टि आपके सातवें भाव पर होने के कारण इस दौरान आपका ध्यान अपने संबंधों की ओर अधिक केन्द्रित रह सकता है। वैवाहिक जीवन व्यतीत कर रहे जातकों को इस दौरान अपने जीवनसाथी की संवेदनशीलता का ध्यान रखने की ज़रूरत है और कोई भी बड़ा फ़ैसला अपने जीवनसाथी के अनुसार ही लेने की सलाह दी जाती है।

शनि वार्षिक गोचर 2022 के अनुसार, मेष राशि के जातकों के लिए भविष्य में अच्छे बदलाव होने की संभावना है। आर्थिक रूप से आप एक आरामदायक स्थिति में रह सकते हैं और आपको कोई बड़ी स्वास्थ्य समस्या न होने की संभावना है। इसके बाद, अप्रैल माह के अंत से जुलाई माह के मध्य तक शनि कुंभ राशि के ग्यारहवें भाव में गोचर करेगा। इस दौरान मेष राशि के जातक सामाजिक रूप से अधिक सक्रिय रह सकते हैं। आपको अपने मित्र और सहयोगी जीवन के एक महत्वपूर्ण पहलू की तरह महसूस हो सकते हैं यानी कि आपका झुकाव अपने मित्रों और सहयोगियों की तरफ़ हो सकता है। इस अवधि में आप एक गहरी और सार्थक मित्रता की आशा रख सकते हैं, जहां आप अपने मूल्यों और विचारों को साझा कर सकें। इस दौरान असंवेदनशील लोगों से दूर जाने में संकोच न करें क्योंकि यदि आप अपने जैसे विचार वाले लोगों से मिलते हैं तो आप उनके साथ मिलकर दुनिया बदल देने जैसा काम कर सकते हैं। स्वास्थ्य की दृष्टि से यह अवधि आपके लिए अच्छी रहने की संभावना है लेकिन फिर भी सड़क पर पैदल चलते समय या वाहन चलाते समय सावधानी ज़रूर बरतें। आपके लिए भले ही कोई गंभीर स्थिति न हो फिर भी आपको आग और बिजली से सावधान रहने की सलाह दी जाती है।

उपाय: भिखारियों और बेघर व्यक्तियों को जूते दान करना आपके लिए शनि गोचर 2022 के प्रभावी उपायों में से एक है।

शनि गोचर 2022: वृषभ

वृष राशि के जातकों के लिए शनि नौवें और दसवें भाव का स्वामी है और इस वर्ष की शुरुआत में शनि आपके नौवें भाव में यानी कि उच्च शिक्षा, आध्यात्मिकता और भाग्य के भाव में गोचर करेगा। यह जातकों के लिए एक ऐसा गोचर हो सकता है, जिसमें जातकों का झुकाव उच्च शिक्षा में अध्ययन की ओर हो सकता है। इस दौरान आपका ध्यान धर्मों और दर्शन के बारे में पढ़ने पर भी केंद्रित हो सकता है। इस अवधि में आपकी रुचि तीर्थ यात्रा के स्वरूप में किसी लंबी दूरी की यात्रा की ओर हो सकती है। साथ ही, आपकी रुचि अपने करियर के मामले में अलग-अलग संस्कृति के लोगों से मिलने की ओर भी हो सकती है। इसके बाद अप्रैल माह के अंत से जुलाई के मध्य तक शनि आपके दसवें भाव में गोचर करेगा, जो कि आपको अपने लक्ष्य के प्रति वांछित प्रगति करने में बाधा ला सकता है। आपको अपने प्रयासों के सकारात्मक परिणाम मिलने में देरी हो सकती है। लगातार काम करते रहने के लिए शनि आपके धैर्य और प्रेरणा की परीक्षा ले सकता है। ऐसा कहा जाता है कि शनि की चाल के दौरान निरंतरता ही सफलता की कुंजी है। इस दौरान जो जातक नौकरीपेशा हैं, वे अपने पद को लेकर असुरक्षित महसूस कर सकते हैं और इसलिए उन्हें बेहतर प्रदर्शन करने और अपने काम पर अच्छी तरह से केंद्रित रहने की सलाह दी जाती है। जो जातक किसी व्यवसाय में हैं, उन्हें इस अवधि में अपने उत्पादों की बिक्री के लिए नए क्षेत्रों को तलाशने की ज़रूरत पड़ सकती है। साथ ही आपको अपने गृहस्थ जीवन में संबंधों को लेकर संघर्षों का सामना करना पड़ सकता है। शनि गोचर 2022 भविष्यवाणी के अनुसार, इस दौरान आपके परिवार के किसी सदस्य का स्वास्थ्य आपकी प्रमुख चिंता का विषय बन सकता है। यदि आप किसी कानूनी मुद्दे में फंसे हुए हैं तो वह भी इस अवधि में आपको परेशान कर सकता है। आपको अपने परिवार में संपत्ति से संबंधित कुछ कानूनी मुद्दों का भी सामना करना पड़ सकता है। स्वास्थ्य के लिहाज से यह समय आपके लिए बेहतर रहने की संभावना है। हालांकि, कभी-कभार सर्दी-बुखार के लक्षण और छोटी-मोटी बीमारियां हो सकती हैं, जिनसे आप जल्द ही निजात पा सकते हैं। इसके बाद शनि मध्य जुलाई के बाद मकर राशि में वक्री हो हो जाएगा और पूरे वर्ष इसी स्थिति में रहेगा।

उपाय: शाकाहार का पालन करना और मादक पदार्थों के सेवन से बचना भी शनि गोचर 2022 के दौरान का एक शक्तिशाली उपाय है।

करियर की हो रही है टेंशन! अभी ऑर्डर करें कॉग्निएस्ट्रो रिपोर्ट

शनि गोचर 2022: मिथुन

मिथुन राशि के जातकों के लिए, शनि आपके आठवें भाव यानी कि रहस्य और अचानक होने वाली घटनाओं के भाव का और आपके नौवें भाव यानी कि उच्च शिक्षा, आध्यात्मिकता, धर्म और भाग्य के भाव का स्वामी है। इस वर्ष की शुरुआत में शनि आपके आठवें भाव में गोचर करेगा। इस दौरान आपके लिए कोई ऐसी स्थिति हो सकती है, जहां अचानक हुई कुछ घटनाओं के कारण आपकी निजी मान्यताओं में बदलाव होने की संभावना है। ऐसा कहा जाता है कि कोई अचानक हुई घटना जातक में आध्यात्मिकता ही ला सकती है। मकर राशि में शनि की स्थिति के कारण आपके करियर और जीवन पथ में बदलाव होने की प्रबल संभावना है। इस दौरान आप ख़ुद को चीज़ों से अलग महसूस कर सकते हैं इसलिए आपको यह सलाह दी जाती है कि अपने प्रदर्शन में सुधार करके इस अलगाव की स्थिति को दूर करने का प्रयास करें और अपने उद्देश्यों को प्राप्त करने के लिए कड़ी मेहनत करते रहें।

आर्थिक रूप से आप अपने परिवार से जुड़े कुछ ख़र्च उठा सकते हैं। वर्ष 2022 के लिए शनि गोचर के आधार पर वार्षिक भविष्यवाणी के अनुसार, शनि की दृष्टि आपके दूसरे भाव पर होगी जो कि धन का प्रतिनिधित्व करता है। ऐसे में आप अपने मन में कुछ ऐसी दीर्घकालिक आर्थिक रणनीतियां बना सकते हैं, जो कि अचानक ज़रूरत पड़ने पर काम आ सके। इस दौरान स्वास्थ्य की दृष्टि से आपको छोटी-मोटी स्वास्थ्य संबंधी समस्याओं का सामना करना पड़ सकता है। आपको यह सलाह दी जाती है कि किसी भी गंभीर स्वास्थ्य समस्या से ख़ुद को बचाने के लिए तुरंत उपचारी उपायों के साथ इसका इलाज करें। इसके बाद मई से जुलाई माह तक शनि का कुम्भ राशि के नौवें भाव में गोचर आपके लिए इस बात का संकेत देता है कि इस दौरान आपको अपने पिता के स्वास्थ्य को लेकर सतर्क रहना पड़ सकता है। जो जातक छात्र हैं, इस अवधि में उनका झुकाव शिक्षा और अध्ययन की ओर रह सकता है। इस गोचर के दौरान मेष राशि के कुछ जातकों के रिश्तों में तनाव, असंतोष और अहंकार के कारण क्लेश होने की आशंका है इसलिए आपको यह सलाह दी जाती है कि फ़िलहाल के लिए आप लोगों के साथ लॉन्ग डिस्टेन्स रिलेशनशिप बनाएं।

उपाय: झूठ और धोखे से दूर रहें। किसी भी कानूनी मामले में लिप्त होने से भी बचें।

शनि गोचर 2022: कर्क

कर्क राशि के जातकों के लिए, शनि सातवें और आठवें भाव का स्वामी है और वैदिक ज्योतिष पर आधारित वार्षिक शनि गोचर 2022 भविष्यवाणी के अनुसार इस वर्ष 2022 के अधिकांश समय में शनि अप्रैल के अंत से मध्य जुलाई तक आपके सातवें और आठवें भाव में गोचर करेगा। इस वर्ष की शुरुआत में आपके सातवें भाव में शनि का गोचर आपके संबंधों में कुछ तनावपूर्ण स्थिति पैदा सकता है और आपका ध्यान अपने रिश्तों और जीवनसाथी की ओर केंद्रित कर सकता है। यही बातें आपके लिए व्यापार और साझेदारी के बारे में भी कही जा सकती है। यह एक ऐसी अवधि होगी जिसमें जातकों का ध्यान अपने रिश्तों के मामलों की ओर केन्द्रित रह सकता है, या तो वे कुछ नए रिश्ते बना सकते हैं या फिर मौजूदा रिश्तों को बनाए रखने का प्रयास कर सकते हैं। ऐसे में आपको यह सलाह दी जाती है कि जितना संभव हो सके अपने रिश्तों को समायोजित करने का प्रयास करें। आपके संबंधों में आपके अहंकार की वजह से क्लेश होने की आशंका है, ऐसी स्थिति में आप या तो अपने अहंकार को बनाए रख सकते हैं या फिर अपने रिश्तों को बनाए रखने में सक्षम हो सकते हैं।

शनि वार्षिक गोचर 2022 भविष्यवाणी के अनुसार जो जातक नौकरी में हैं, वे इस अवधि में कुछ बाधाओं के कारण प्रभावी ढंग से प्रदर्शन करने में सक्षम नहीं हो सकते हैं। संक्षेप में कहें तो आपको अधिक कार्यभार के कारण अधिक समय तक काम करना पड़ सकता है। जो जातक किसी व्यवसाय में हैं, उन्हें इस अवधि में अपने ग्राहकों को समय पर सामान पहुंचाने में दिक्कतों का सामना करना पड़ सकता है। हालांकि, आर्थिक मोर्चे पर आप आरामदायक स्थिति में रह सकते हैं क्योंकि आपके द्वारा कोई बड़ा ख़र्च न होने की संभावना है। इस दौरान आपको स्वास्थ्य की दृष्टि से आरामदायक स्थिति में रहने की सलाह दी जाती है।साथ ही, आपको अपने स्वास्थ्य के प्रति बहुत सावधान रहने की आवश्यकता है। मध्यम आयु वर्ग और उससे अधिक उम्र के जातकों को पुरानी स्वास्थ्य समस्याओं से अधिक सावधान रहने की ज़रूरत है।

उपाय: चांदी की एक छोटी सी गेंद ख़रीदकर अपने बटुए में रखें।

शनि गोचर 2022: सिंह

सिंह राशि के जातकों के लिए शनि छठे भाव और सातवें भाव का स्वामी है। इस वर्ष शनि का आपके छठे भाव में गोचर ऋण, स्वास्थ्य संबंधी समस्याओं और रोज़गार का संकेत देता है और अप्रैल के अंत से जुलाई माह के मध्य तक आपके सातवें भाव में गोचर करना विवाह और साझेदारी का संकेत देता है। यह अवधि कर्मचारियों और पेशेवरों के लिए तनावपूर्ण अवधि हो सकती है। इस दौरान नौकरीपेशा जातकों अपने कौशल में सुधार करने, हर चीज़ के लिए तैयार रहने, अपनी स्थिति को सुरक्षित रखने और भविष्य में विकास होने की संभावनाओं को जीवित रखने के लिए अधिक ज़िम्मेदारी से काम करने की आवश्यकता है। जो लोग व्यवसाय से जुड़े हुए हैं, उन्हें इस दौरान अपने प्रतियोगियों की वजह से कुछ चुनौतियों का सामना करना पड़ सकता है, जिसके परिणामस्वरूप उन्हें अपने प्रतियोगियों पर जीत हासिल करने के लिए मजबूत रणनीति बनाने की आवश्यकता पड़ सकती है। स्वास्थ्य के लिहाज से मध्यम आयु वर्ग और उससे ऊपर के लोगों को पुराने स्वास्थ्य संबंधी मुद्दों को लेकर ज़्यादा सावधान रहने की ज़रूरत है। इस अवधि में आपको रक्तचाप या मधुमेह होने से संबंधित कुछ समस्याओं का सामना करना पड़ सकता है। आपको यह सलाह दी जाती है कि स्वास्थ्य संबंधी किसी भी बदलाव पर नज़र रखने के लिए नियमित रूप से अपने स्वास्थ्य की जांच करवाएं। इस दौरान विवाहित जातकों के वैवाहिक जीवन में कुछ उथल-पुथल रह सकती है। ऐसे में आपको सलाह दी जाती है कि अपने जीवनसाथी की संवेदनशीलता का ध्यान रखें और घरेलू मामलों अपने जीवनसाथी के दृष्टिकोण को भी समझें।

उपाय: आपको नियमित रूप से गहरे हरे रंग के कपड़े पहनने की कोशिश करनी चाहिए, खासकर शनिवार के दिन। यह आपके लिए प्रभावी शनि गोचर 2022 उपायों में से एक हो सकता है।

शनि गोचर 2022: कन्या

शनि 2022 गोचर भविष्यवाणी के अनुसार, कन्या राशि के जातकों के लिए शनि उनके पांचवें भाव यानी कि शिक्षा, रोमांस और रचनात्मकता के भाव का और छठे भाव यानी कि दिनचर्या, विवाद, बीमारियों और बाधाओं के भाव का स्वामी है। इस वर्ष की शुरुआत में शनि आपके पांचवें भाव में और अप्रैल अंत से मध्य जुलाई तक आपके छठे भाव में गोचर करेगा। इस अवधि में मैनुफैक्चरिंग या इन-सर्विस मुहैया कराने वाले व्यवसायी अपने लक्ष्य की ओर उत्साहजनक प्रगति करने में सक्षम हो सकते हैं। स्थानीय बाज़ारों में काम करने वाले व्यवसायियों को अपनी बिक्री बढ़ाने के लिए एक मजबूत रणनीति तैयार करने की आवश्यकता पड़ सकती है। जो जातक नौकरीपेशा हैं, वे इस दौरान भविष्य में अपने विकास की संभावनाओं को लेकर कार्यक्षेत्र में उत्साहजनक दिख सकते हैं। कन्या राशि के छात्र जातकों पर वर्ष 2022 में शनि के गोचर का प्रतिकूल प्रभाव पड़ सकता है। वे अपने औसत परिणाम से निराश हो सकते हैं लेकिन अपनी पढ़ाई में अत्यधिक एकाग्रता के साथ, आप योग्यता सूची (मेरिट लिस्ट) में आने की संभावना रखते हैं। एकाग्रता में कमी, व्याकुलता और समर्पण की कमी आपके लिए नकारात्मक परिणाम ला सकती है इसलिए आपको यह सलाह दी जाती है कि बुरी संगति और बुरी आदतों से दूरी बनाने का प्रयास करें। स्वास्थ्य की दृष्टि से कन्या राशि के जातकों के लिए यह अवधि अच्छी साबित नहीं हो सकती है क्योंकि आपको अपने स्वास्थ्य का ख़्याल रखना पड़ सकता है। इस अवधि में आपको यह सलाह दी जाती है कि आओने खान-पान का विशेष रूप से ख़्याल रखें और अपने स्वास्थ्य की नियमित रूप से जांच कराएं क्योंकि इस अवधि में आपका ख़राब स्वास्थ्य आपके लिए पीड़ादायक हो सकता है। कुल मिलाकर, कन्या राशि के जातकों के लिए स्वास्थ्य की दृष्टि से यह अवधि आपको मिश्रित परिणाम देने वाली हो सकती है।

उपाय: किसी भी काम को ज़्यादा देर तक न टालें।

शनि गोचर 2022: तुला

तुला राशि के जातकों के लिए शनि आपके चौथे भाव यानी कि घर, माता और शांति के भाव और पांचवें भाव यानी कि शिक्षा, रोमांस और रचनात्मकता के भाव का स्वामी है। इस वर्ष की शुरुआत में शनि आपके चौथे भाव में गोचर करेगा और फिर अप्रैल के अंत से मध्य जुलाई तक कुंभ राशि के पांचवें भाव में गोचर करेगा और अंत में शेष वर्ष के लिए मकर राशि में गोचर करेगा। इस अवधि में आपको भवन, संपत्ति या कोई अन्य अचल संपत्ति प्राप्त प्राप्त होने की संभावना है क्योंकि शनि स्वयं निर्माण का कारक है। इस दौरान आपका ध्यान अपने घर और अपनी माँ की ओर अधिक रह सकता है। इस अवधि में आपकी माँ को स्वास्थ्य संबंधी कोई समस्या होने की आशंका है, ऐसे में आपको यह सलाह दी जाती है कि अपना माँ के स्वास्थ्य का उचित ख़्याल रखें। इस समय में आप अपने घर या अपनी माँ के साथ रहना पसंद कर सकते हैं लेकिन क्योंकि शनि दूरी का प्रतिनिधित्व करता है इसलिए शनि के प्रभाव के कारण आप अपने घर, माँ और मातृभूमि से बहुत दूर जा सकते हैं। इस अवधि में आपके अप्रत्याशित ख़र्चों में वृद्धि होने के कारण धन आर्थिक रूप से आपकी चिंता का कारण बन सकता है। आप अपनी बचत के पैसों को भी ख़र्च कर सकते हैं। साथ ही, आपकी आय में अनिश्चितता और अनियमितता आपकी परेशानी का कारण बन सकती है। इसके अलावा कुछ बेवजह के ख़र्चे भी आपको अधिक परेशान कर सकते हैं।

शनि वार्षिक गोचर 2022 के अनुसार, जो जातक किसी व्यवसाय से जुड़े हुए हैं, उनके लिए शनि गोचर 2022 औसत रूप से परिणाम ला सकता है। आपके बिज़नेस मोड में कोई बदलाव नहीं होगा लेकिन इसमें थोड़ी कमी ज़रूर आ सकती है। यदि आप साझेदारी में अपना व्यवसाय चला रहे हैं तो इस दौरान अपने संबंध अपने साझेदार के साथ बहुत अच्छे न रहने की आशंका है। शिक्षा व अध्ययन की दृष्टि से इस दौरान छात्रों को औसत परिणाम और ख़राब परिणाम भी मिल सकते हैं क्योंकि आप अपनी परीक्षा की अच्छी तैयारी करने में सक्षम हो सकते हैं। आपको अपने प्रदर्शन में अधिक परेशानी न होने की संभावना है। इसके अलावा आपके लिए परीक्षा के परिणाम भी ज़्यादा प्रभावित नहीं हो सकते हैं। इस दौरान तुला राशि के जातकों के लिए यह गोचर पारिवारिक मोर्चे पर बहुत अच्छा न होने की आशंका है। इस दौरान आप घर की समस्याओं के साथ-साथ आप अपने जीवनसाथी या परिवार के किसी सदस्य के स्वास्थ्य से जुड़ी किसी समस्या की वजह से उदास रह सकते हैं। स्वास्थ्य की दृष्टि से यह गोचर आपको मिश्रित परिणाम दे सकता है और आप हमेशा किसी न किसी स्वास्थ्य समस्या से जुड़ी परेशानी का अनुभव कर सकते हैं। इस दौरान आपको पेट से संबन्धित कोई समस्या, पेट के निचले हिस्से से जुड़ी कोई समस्या या अन्य किसी निचले हिस्से की समस्या आपको परेशान कर सकती है। इसलिए आपको यह सलाह दी जाती है कि अपने खान-पान का विशेष रूप से ख़्याल रखें।

उपाय: शनिवार को काले या गहरे नीले रंग के कपड़े पहनने से बचें और यदि आपको लगता है कि आपकी कुंडली में स्थित शनि आपको परेशान कर रहा है तो किसी के बारे में कुछ भी बुरा बोलने से बचें।

क्या आपकी कुंडली में हैं शुभ योग? जानने के लिए अभी खरीदें बृहत् कुंडली

शनि गोचर 2022: वृश्चिक

वृश्चिक राशि के जातकों के लिए शनि आपके तीसरे भाव यानी कि साहस, भाई-बहन और यात्रा के भाव का और चौथे भाव यानी कि माँ, सुख और विलासिता के भाव का स्वामी है। शनि इस वर्ष की शुरुआत में आपके तीसरे भाव में गोचर करेगा और फिर अप्रैल के अंत से जुलाई के मध्य तक आपके चौथे भाव में गोचर करेगा और अंत में शेष वर्ष के लिए वक्री होने के बाद पुनः आपके तीसरे भाव में गोचर करेगा। यह अवधि उन जातकों के लिए अनुकूल साबित हो सकती है जो अपना सर्वश्रेष्ठ देने के लिए प्रयास करेंगे दरअसल इस अवधि में आपके धैर्य की परीक्षा होने की संभावना है। जो जातक व्यवसाय से जुड़े हुए हैं, उन्हें मेहनत करते रहने और अपनी बारी के लिए धैर्यपूर्वक प्रतीक्षा करने की आवश्यकता है। नौकरी की तलाश कर रहे जातकों को अपनी स्थिति को सुरक्षित रखने के लिए अपने प्रदर्शन में सुधार करने का प्रयास करना पड़ सकता है। जो जातक नौकरीपेशा हैं और नौकरी बदलने के इच्छुक हैं तो शनि की चाल आपके लिए अनुकूल साबित हो सकती है।

शनि गोचर 2022 भविष्यवाणी के अनुसार, इस दौरान वृश्चिक राशि के जातकों को पारिवारिक जीवन और संबंधों के मोर्चे पर औसत से अच्छे परिणाम मिलने की संभावना है। वृश्चिक राशि के जातकों के लिए यह गोचर कुछ हद तक अच्छा रह सकता है लेकिन अच्छा समय होने के बावजूद आपके परिवार के सदस्य बिना किसी कारण के अचानक परेशान हो सकते हैं। इस दौरान आपको अपने शब्दों से सावधान रहने की ज़रूरत है। इस अवधि में आपके परिवार के किसी सदस्य का स्वास्थ्य आपके लिए एक बड़ी चिंता का विषय बन सकता है। साथ ही, आपके परिवार के सदस्यों का व्यवहार आपको अंदर से झकझोर सकता है। इस दौरान आपकी सामाजिक स्थिति में सुधार होने की संभावना है लेकिन फिर भी आपको दूसरों से सावधान रहने की ज़रूरत है। इस अवधि में आपको आर्थिक लाभ, पदोन्नति और अपने पेशे में अच्छा पद प्राप्त हो सकता है अर्थात इस अवधि में आपके लिए चारों ओर ख़ुशी का माहौल हो सकता है। स्वास्थ्य की दृष्टि से जातकों के लिए समय अच्छा हो सकता है। यदि आप किसी पुरानी बीमारी से पीड़ित हैं तो धीरे-धीरे ठीक होने की संभावना है लेकिन अगर आप अपनी ठीक से देखभाल नहीं करेंगे तो कुछ छोटी-मोटी बीमारियां आपको परेशान कर सकती हैं।

उपाय: प्रतिदिन स्नान करें, साफ़-सुथरे वस्त्र धारण करें और हो सके तो इत्र का इस्तेमाल करें।

शनि गोचर 2022: धनु

धनु राशि के जातकों के लिए शनि दूसरे भाव यानी कि परिवार, धन और वाणी के भाव और तीसरे भाव यानी कि साहस, भाई-बहन और यात्रा के भाव का स्वामी होता है। इस वर्ष की शुरुआत में शनि आपके दूसरे भाव में गोचर करेगा फिर यह अप्रैल के अंत से जुलाई के मध्य तक आपके तीसरे भाव में गोचर करेगा और फिर अंत में शेष वर्ष के लिए वक्री होने के बाद आपके दूसरे भाव में फिर से गोचर करेगा। यह गोचर अवधि आपके लिए आर्थिक दृष्टिकोण से औसत रह सकती है इसलिए आपको सलाह दी जाती है कि किसी को भी ऋण या उधर देने से मना करने में संकोच न करें क्योंकि आपकी कुंडली के अनुसार आपको धन की हानि होने की आशंका है। साथ ही, धन की हानि होने का एक कारण चोरी भी हो सकता है इसलिए अधिक सावधान रहने की सलाह दी जाती है। ऐसी भी स्थिति आने की आशंका है कि आपको किसी काम के लिए अपनी ज़मीन और मकान जैसी संपत्ति बेचनी पड़ सकती है। इसके बाद यदि आप अपने निवेश की सही तरीके से योजना बनाते हैं तो इस अवधि में आप एक नए और बड़े घर में प्रवेश कर सकते हैं और साथ ही, आपके पास अतिरिक्त धन कमाने के कई मौके आ सकते हैं। व्यवसाय कर रहे जातकों के लिए यह अवधि अधिकतर समय लाभकारी रहने की संभावना है। व्यवसायी जातकों के लिए यह अवधि विकास के व्यापार या बिक्री के व्यापार में निवेश करने के लिए अनुकूल साबित हो सकती है। अपने करियर की ओर केन्द्रित जातकों को इस दौरान अपने काम पर अच्छी तरह से ध्यान केंद्रित करने और अधिक उत्पादन देकर अपने प्रदर्शन को बेहतर बनाने का प्रयास करने की आवश्यकता है। स्वास्थ्य की दृष्टि से, इस अवधि में आपको कोई भी बड़ी स्वास्थ्य समस्या न होने के संकेत मिल रहे हैं। हालांकि, आपको कुछ मामूली परेशानी हो सकती है ऐसी स्थिति में जटिलताओं से बचने के लिए तुरंत उपचारी इलाज कराएं।

उपाय: शनि को बलवान बनाने के लिए भगवान हनुमान, शिव, पीपल के पेड़, भगवान ब्रह्मा की पूजा करें।

शनि गोचर 2022: मकर

मकर राशि के जातकों के लिए शनि पहले और दूसरे भाव का स्वामी होता है। पहला भाव आपके व्यक्तित्व को और दूसरा भाव परिवार, धन और वाणी को दर्शाता है। इस वर्ष की शुरुआत में शनि आपके पहले भाव में गोचर करेगा और फिर अप्रैल माह के अंत से जुलाई के मध्य तक आपके दूसरे भाव में गोचर करेगा और फिर शेष वर्ष के लिए वक्री होकर आपके पहले भाव में गोचर करेगा। आर्थिक दृष्टिकोण से यह अवधि आपके अनुकूल न होने की आशंका है इसलिए आपको यह सलाह दी जाती है कि इस दौरान किसी भी प्रकार का ऋण या उधार देने से बचें। साथ ही, इस समय में कुछ अप्रत्याशित और ग़ैरज़रूरी ख़र्चे आपकी आर्थिक स्थिति को प्रभावित कर सकते हैं। इस दौरान करियर के मामले में आपको कुछ नकारात्मक परिणाम प्राप्त होने की आशंका है, जिसके कारण परेशानी, वियोग, अप्रसन्नता और मानसिक तनाव आपके दैनिक जीवन का हिस्सा बन सकते हैं। इसके अलावा, आपको नौकरी में स्थानांतरण, नौकरी छूटना और नौकरी से संबंधित कुछ अन्य परेशानियों का भी सामना करना पड़ सकता है। आपके सामने पेशेवर धन जैसे कि आमदनी या आय से जुड़ी कुछ अप्रत्याशित समस्याएं भी आ सकती हैं। ऐसी स्थिति में आपको यह सलाह दी जाती है कि इस दौरान अपने मेहनत करने और नियमों का पालन करने के रवैये को न छोड़े। शनि गोचर पर आधारित वार्षिक राशिफल 2022 के अनुसार, शिक्षा के दृष्टिकोण से यह वर्ष आपके लिए अधिक भाग्यशाली न रहने की आशंका है क्योंकि आपकी एकाग्रता में कमी हो सकती है और आपका मन व्याकुल हो सकता है जिसके कारण आपको अपनी अपेक्षाओं से कम परिणाम मिल सकता है। आपको यह सलाह दी जाती है कि बुरी संगति और बुरी आदतों से दूरी बनाएं। संबंधों के लिहाज से इस दौरान आपको घरेलू मोर्चे पर किसी गंभीर मुद्दे का सामना करना पड़ सकता है। The health of one of your family members will become a major concern for being eligible for marriage and if you want to go for a match, you may get it. यदि आप एक सामाजिक व्यक्ति हैं तो यह अवधि आपके लिए समाज में नाम और प्रसिद्धि पाने के लिए अनुकूल नहीं रह सकती है। आपको यह सलाह दी जाती है कि अपनी वाणी पर ध्यान दें।

उपाय: प्रतिदिन हनुमान चालीसा/शनि चालीसा का पाठ करें। यह शनि के कारण होने वाले बुरे प्रभाव को कम करने में आपकी मदद करेगा। यह आपके लिए एक प्रभावी शनि गोचर 2022 उपाय हो सकता है।

पाएं अपनी कुंडली आधारित सटीक शनि रिपोर्ट

शनि गोचर 2022: कुंभ

कुंभ राशि के जातकों के लिए शनि बारहवें और पहले भाव का स्वामी होता है। कुंडली का बारहवां भाव विदेश यात्रा, ख़र्च और मोक्ष को दर्शाता है और पहला भाव स्वयं और व्यक्तित्व को दर्शाता है। शनि इस वर्ष की शुरुआत में आपके बारहवें भाव में गोचर करेगा और फिर अप्रैल माह के अंत से जुलाई माह के मध्य तक आपके पहले भाव में गोचर करेगा और फिर शेष वर्ष के लिए वक्री होकर आपके बारहवें भाव में गोचर करेगा। इस अवधि में जो जातक उच्च शिक्षा के लिए विदेश जाने के इच्छुक हैं, वे अपने उद्देश्य को पाने में सफल हो सकते हैं। जो जातक व्यवसाय में हैं, वे इस दौरान किसी विदेश स्थित कंपनी से बड़े सौदे के लिए छोटी अवधि की कोई विदेश यात्रा कर सकते हैं। करियर की ओर केन्द्रित जातकों को इस दौरान अपने पद को सुरक्षित रखने के लिए और उत्पादक बनाने के लिए अपने काम पर अधिक ध्यान केन्द्रित करने की आवश्यकता है।

संबंधों के लिहाज से आपको घरेलू मोर्चे पर कुछ गंभीर मुद्दों का सामना करना पड़ सकता है। इसके अलावा आपके परिवार के किसी सदस्य का स्वास्थ्य आपके लिए प्रमुख चिंता का विषय बन सकता है। साथ ही, आपके जीवनसाथी और बच्चों को आँख से जुड़ी स्वास्थ्य समस्याओं का सामना करना पड़ सकता है। जो जातक विवाह के योग्य हैं और विवाह करने के इच्छुक हैं, उन्हें शुभ समय के लिए थोड़ा इंतज़ार करना पड़ सकता है। स्वास्थ्य की दृष्टि से यह अवधि आपके लिए अच्छी नहीं रह सकती है, इसके लिए आपको अपने स्वास्थ्य का और अपने खान-पान का विशेष रूप से ध्यान रखने की आवश्यकता है। आपको यह सलाह दी जाती है कि अपने स्वास्थ्य की नियमित रूप से जांच कराएं क्योंकि इस दौरान आपके स्वास्थ्य में अचानक गिरावट आने की आशंका है।

उपाय: शनिवार के दिन ग़रीबों को चमड़े की चीज़ें जैसे चप्पल, सैंडल, जूते, या काले रंग की वस्तुएं दान करें

शनि गोचर 2022: मीन

मीन राशि के जातकों के लिए शनि आपके ग्यारहवें और बारहवें भाव का स्वामी है। कुंडली का ग्यारहवां भाव सामाजिक जीवन, मित्र, आय, इच्छा का और बारहवां भाव विदेश, व्यय और मोक्ष को दर्शाता है। इस वर्ष की शुरुआत में शनि आपके ग्यारहवें भाव में और फिर अप्रैल माह के अंत से जुलाई माह के मध्य तक आपके बारहवें भाव में गोचर करेगा और फिर अंत में शेष वर्ष के लिए वक्री होकर आपके ग्यारहवें भाव में गोचर करेगा। इस अवधि के दौरान अपने करियर की ओर केन्द्रित जातकों को प्रभावी ढंग से प्रदर्शन करते रहने की आवश्यकता है। वहीं, नौकरीपेशा जातक इस दौरान भविष्य में होने वाली तरक्की को लेकर ख़ुश और प्रेरित रह सकते हैं। आपकी आर्थिक स्थिति इस गोचर के दौरान अच्छी रहने की संभावना है। जो जातक प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी कर रहे हैं, उन्हें अपनी प्रतियोगी परीक्षाओं को योग्यता के साथ उत्तीर्ण करने के लिए अतिरिक्त प्रयास कर पड़ सकते हैं। इस दौरान आपकी एकाग्रता में कमी आ सकती है, आपका मन व्याकुल हो सकता है जिससे आप अच्छे परिणाम लाने के लिए भाग्यशाली नहीं हो सकते हैं। आपको यह सलाह दी जाती है कि बुरी संगति और बुरी आदतों से दूरी बनाएं। शनि गोचर 2022 भविष्यवाणी के अनुसार, आपको अपने पारिवारिक जीवन में कुछ गंभीर मुद्दों का सामना करना पड़ सकता है। आपका अपने जीवनसाथी और अपने बच्चों के साथ कुछ विवाद हो सकता है। हालांकि, ग्रहों की अनुकूल चाल से वह सारा विवाद सुलझ जाने की संभावना है। आपके लिए स्वास्थ्य के लिहाज से यह समय अच्छा रह सकता है। आपको इस दौरान छाती, हृदय और पेट से संबंधित बीमारियां हो सकती है लेकिन यह बीमारियां अस्थायी होंगी। यदि आप किसी पुरानी बीमारी से पीड़ित हैं तो इस अवधि में आपको अधिक सावधानी बरतने की ज़रूरत है। आपको यह सलाह दी जाती है कि किसी भी छोटी स्वास्थ्य समस्या को नज़रअंदाज़ न करें, तुरंत चिकित्सक से उचित सलाह लें।

उपाय: रुद्राक्ष की माला से 40 दिनों तक शनि मंत्र "ॐ प्रं प्रीं प्रौं स: शनैश्चराय नम:" का जाप करें। यह शनि के लिए सबसे प्रभावी उपायों में से एक है।

सभी ज्योतिषीय समाधानों के लिए क्लिक करें: ऑनलाइन शॉपिंग स्टोर

हम उम्मीद करते हैं कि आपको हमारा यह लेख जरूर पसंद आया होगा। अगर ऐसा है तो आप इसे अपने अन्य शुभचिंतकों के साथ जरूर साझा करें। धन्यवाद!

More from the section: Horoscope 3348
2021 Articles
Buy Today
Gemstones
Get gemstones Best quality gemstones with assurance of AstroSage.com More
Yantras
Get yantras Take advantage of Yantra with assurance of AstroSage.com More
Navagrah Yantras
Get Navagrah Yantras Yantra to pacify planets and have a happy life .. get from AstroSage.com More
Rudraksha
Get rudraksha Best quality Rudraksh with assurance of AstroSage.com More
Today's Horoscope

Get your personalised horoscope based on your sign.

Select your Sign
Free Personalized Horoscope 2022
© Copyright 2021 AstroCAMP.com All Rights Reserved